माकपा कमेटी की तरफ से निकाली गई विरोध रैली

रानीगंज लोकल एरिया माकपा कमेटी की तरफ से आज नेताजी स्टैचू के सामने एक विरोध रैली निकाली गई। पार्टी की तरफ से रानीगंज के विभिन्न इलाकों में एक जुलूस निकाला गया इसके बाद थाने के सामने  एक विरोध सभा

author-image
Kalyani Mandal
एडिट
New Update
raili89

टोनी आलम, एएनएम न्यूज़: रानीगंज लोकल एरिया माकपा कमेटी की तरफ से आज नेताजी स्टैचू के सामने एक विरोध रैली निकाली गई। पार्टी की तरफ से रानीगंज के विभिन्न इलाकों में एक जुलूस निकाला गया इसके बाद थाने के सामने  एक विरोध सभा का आयोजन हुआ। इस मौके पर यहां आसनसोल के पूर्व सांसद वंश गोपाल चौधरी रानीगंज के पूर्व विधायक रुनु दत्ता सुप्रियो राय हेमंत प्रभाकर दिव्येंदु मुखर्जी सहित तमाम कार्यकर्ता उपस्थित थे। इस मौके पर वामपंथी नेताओं ने संदेश खाली की घटना के लिए राज्य सरकार की कड़ी आलोचना की । उन्होंने कहा कि जिस तरह से संदेश खाली मैं राज्य सरकार की मदद से पुलिस के शह पर टीएमसी के नेताओं ने वहां के लोगों पर अत्याचार किया, महिलाओं की इज्जत के साथ खिलवाड़ किया। यह निंदनीय है। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है। उन्होंने कहा कि शेख शाहजहां शिबू हाजरा उत्तम सरदार को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है, लेकिन माकपा नेता निरापद सरदार को गिरफ्तार कर लिया गया, जिनका इस घटना से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि संदेशखाली में टीएमसी द्वारा वहां के लोगों पर अत्याचार किया गया है, महिलाओं की इज्जत के साथ खिलवाड़ किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में महिला मुख्यमंत्री होने के बावजूद राज्य में महिलाएं सुरक्षित नहीं है। मुख्यमंत्री कहते हैं की लक्ष्मी भंडार देकर वह महिलाओं को काफी सम्मानित करती है लेकिन सच्चाई यह है कि राज्य में महिलाओं की कोई सुरक्षा नहीं है,  ना ही उनका कोई सम्मान है।  उन्होंने तुरंत निरापद सरकार के निशर्त रिहाई की मांग की।