पश्चिम बंगाल में ऐसे नहीं चलाए जा सकते बुलडोजर : रुपेश यादव


03/06/2022 17:02:52 PM   Palwinder Singh         36






टोनी अलाम, एएनएम न्यूज़: अंडाल प्रखंड अंतर्गत अंडाल न्यू ट्रैफिक कॉलोनी से सटे इलाके को मुक्त कराने के लिए शुक्रवार को रेल प्रशासन की ओर से बुलडोजर लाया गया। रेलवे प्रशासन के अचानक कदम से ट्रैफिक कॉलोनी इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। रेलवे प्रशासन ने कहा कि उसे रेलवे के शीर्ष अधिकारियों से अंडाल रेलवे क्षेत्र में अवैध निर्माण को ध्वस्त करने और उन्हें मुक्त करने के लिए छोड़े गए क्वार्टरों को ध्वस्त करने का निर्देश मिला है। क्लब के अधिकारियों की ओर से सौरव कुमार दास ने कहा कि इस ट्रैफिक कॉलोनी के क्षेत्र में कई क्लब स्थित हैं जो साल भर विभिन्न सामाजिक गतिविधियों में शामिल रहते हैं। पार्टी की ओर से यह भी दावा किया जाता है कि इस क्लब के कई सदस्य हैं जो वर्तमान में रेलवे कर्मचारी हैंउधर, स्थानीय निवासी बैद्यनाथ दास ने कहा, ''हम इस इलाके में 40 से 50 साल से रह रहे हैं। अगर रेलवे अधिकारी अचानक ऐसा कदम उठाते हैं तो हम इसे स्वीकार नहीं करेंगे।'' उन्होंने धमकी दी कि यदि आज के बाद रेल प्रशासन उन्हें उनके निवास स्थान से जबरन हटाना चाहेगा तो क्षेत्र के निवासी अंडाल रेलवे कार्यालय बंद कर देंगे, यदि आवश्यक हुआ तो यहां से रेल टिकटों की बिक्री रोक दी जाएगी और क्षेत्र में व्यापक आंदोलन होगा। रानीगंज नगर अध्यक्ष रूपेश यादव आंदोलन के समर्थन में स्थानीय निवासियों के साथ खड़े हुए। उन्होंने कहा कि यदि रेल प्रशासन क्षेत्र के लोगों को बुलडोजर से जबरन बेदखल करना चाहे तो यह संभव नहीं होगा। क्योंकि यह उत्तर प्रदेश नहीं बल्कि पश्चिम बंगाल है। पश्चिम बंगाल में ऐसे नहीं चलाए जा सकते बुलडोजर, लोग खड़े होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि रेलवे प्रशासन दावा कर रहा है कि जगह उनकी है, अगर जगह रेल प्रशासन की है तो रेल प्रशासन जमीन का सही कागज दिखाएगा और फिर न्यायोचित विचार होगा।



अधिक समाचार
For more details visit anmnewshindi.in
Follow us at https://www.facebook.com/hindianmnews 




TAGS :        Bulldozers run like West Bengal Rupesh Yadav